X

Fact Check: यूपीएससी में 5वीं रैंक हासिल करने वाले उत्कर्ष द्विवेदी का भारतीय वायुसेना से नहीं है कोई कनेक्शन

उत्कर्ष द्विवेदी ने यूपीएससी—2021 में 5वीं रैंक हासिल की है। उनका भारतीय वायुसेना से कोई कनेक्शन नहीं है। यूपीएससी की तैयारी के दौरान उन्होंने कोई नौकरी नहीं की थी। वायरल दावा गलत है। हालांकि, हमें फोटो में दिख रहे शख्स के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

  • By Vishvas News
  • Updated: June 6, 2022
utkarsh dwivedi upsc, utkarsh dwivedi job, fact check, upsc 2021 result,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। यूपीएससी—2021 में पांचवीं रैंक पाने वाले उत्कर्ष द्विवेदी को लेकर एक पोस्ट वायरल हो रही है। एक फोटो शेयर करके यूजर्स दावा कर रहे हैं कि भारतीय वायुसेना में कॉरपोरल उत्कर्ष द्विवेदी ने यूपीएससी में 5वीं रैंक हासिल की है। विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल दावा फर्जी है। उत्कर्ष द्विवेदी ने भारतीय वायुसेना में नौकरी नहीं की है। वायरल फोटो भी उनकी नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में

1 जून 2022 को फेसबुक यूजर Rajkumar Singh (आर्काइव लिंक) ने फोटो पोस्ट करते हुए लिखा,

Indian Air Force Corporal Utkarsh Dwivedi cracks the IAS exam & secures All India Rank 5th in the merit list.
Heartiest congratulations CPL U. dwivedi.
(भारतीय वायुसेना के कॉरपोरल उत्कर्ष द्विवेदी ने आईएएस की परीक्षा पास की है। उनकी 5वीं रैंक आई है। कॉरपोरल द्विवेदी को हार्दिक बधाई।)

ट्विटर यूजर @EkVishwa (आर्काइव लिंक) ने भी 31 मई को फोटो पोस्ट करते हुए समान दावा किया।

https://twitter.com/EkVishwa/status/1531686642590748672

पड़ताल

वायरल दावे की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले कीवर्ड से इसे सर्च किया। इसमें हमें आज तक में 2 जून को छपा उनका इंटरव्यू मिला। इसके मुताबिक, उत्कर्ष अयोध्या के रहने वाले हैं। 2018 में उन्होंने सिविल सर्विसेज की तैयारी शुरू की थी। 2019 में उन्होंने पहली बार सिविल सर्विसेज की परीक्षा दी, लेकिन इंटरव्यू में सफल नहीं हो पाए। यह उनका तीसरा प्रयास था। इसमें उन्होंने 5वीं रैंक हासिल की है। पूरी खबर में उत्कर्ष की जॉब को लेकर कोई जिक्र नहीं है।

bhaskar में छह दिन पहले छपी खबर के मुताबिक, उत्कर्ष का परिवार 12 साल से इंदौर में रह रहा है। उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा डीपीएस इंदौर से की है। इसके बाद 2019 में वीआईटी वेल्लोर से मैकेनिकल इंजीनयिरंग की है।

1 जून को indiatoday में छपी खबर के अनुसार, ग्रेजुएशन करने के बाद उत्कर्ष ने सिविल सर्विसेज की कोशिश शुरू कर दी। वीआईटी वेल्लोर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बीटेक करने के बाद उनको पीएसयू सतलुज जल विद्युत निगम में नौकरी का प्रस्ताव मिला था, लेकिन उन्होंने अपने लक्ष्य को पाने के लिए इसे मना कर दिया। उनका ध्यान केवल यूपीएससी की तैयारी पर था। इस वजह से उन्होंने कोई नौकरी नहीं की।

utkarsh dwivedi upsc news

इस बारे में अधिक पुष्टि के लिए हमने उत्कर्ष द्विवेदी से संपर्क किया और उनको वायरल पोस्ट भेजी। उनका कहना है, ‘यह फेक है। यह मेरी फोटो नहीं है।’ इसके साथ ही उन्होंने हमें उनके बयान का लिंक भी भेजा। गुड न्यूज टुडे के ट्विटर अकाउंट से 4 जून 2022 को एक वीडियो ट्वीट किया गया है। इसमें उत्कर्ष कह रहे हैं, सोशल मीडिया पर एक फेक न्यूज वायरल हो रही है। इसमें कहा गया है कि कोई उत्कर्ष द्विवेदी है, जिसकी पांचवीं रैंक आई है। वह भारतीय वायुसेना में कॉरपोरल थे। ऐसा कुछ नहीं है। उन्होंने इस ट्वीट को लेकर ट्विटर को रिपोर्ट भी किया है। उनका भारतीय वायुसेना से कोई कनेक्शन नहीं है।

इसके बाद हमने वायरल फोटो को गूगल रिवर्स इमेज से सर्च किया, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली।

भ्रामक पोस्ट को वायरल करने वाले फेसबुक यूजर ‘राजकुमार सिंह‘ की प्रोफाइल को हमने स्कैन किया। इसके मुताबिक, वह गाजियाबाद में रहते हैं। अक्टूबर 2014 से वह फेसबुक पर सक्रिय हैं।

निष्कर्ष: उत्कर्ष द्विवेदी ने यूपीएससी—2021 में 5वीं रैंक हासिल की है। उनका भारतीय वायुसेना से कोई कनेक्शन नहीं है। यूपीएससी की तैयारी के दौरान उन्होंने कोई नौकरी नहीं की थी। वायरल दावा गलत है। हालांकि, हमें फोटो में दिख रहे शख्स के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

  • Claim Review : भारतीय वायुसेना में कॉरपोरल उत्कर्ष द्विवेदी ने यूपीएससी में 5वीं रैंक हासिल की है।
  • Claimed By : FB User- Rajkumar Singh
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later