X

Fact Check: उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में छात्रों ने पहने थे अलग-अलग रंग के स्कार्फ, पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे से वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 26, 2021

विश्वास न्यूज (नई दिल्ली)। सोशल मीडिया पर उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह को लेकर एक दावा वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स युवक-युवतियों की एक तस्वीर शेयर कर दावा कर रहे हैं कि उत्तरांचल यूनिर्सिटी ने इस साल दीक्षांत समारोह में काले कोट और काले टोप की जगह सभी स्टू़डेंट्स को भगवा पहनाकर डिग्रियां दीं।

विश्वास न्यूज की पड़ताल में ये दावा भ्रामक साबित हुआ है। इस साल अबतक उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह का आयोजन नहीं हुआ है। सोशल मीडिया यूजर्स पिछले साल यानी 2020 के आयोजन की तस्वीरें शेयर कर रहे हैं। उस साल भी स्टूडेंट्स के लिए सिर्फ भगवा रंग का ड्रेस कोड नहीं था, बल्कि छात्रों-छात्राओं ने अलग-अलग रंग के स्कार्फ भी पहने थे।

क्या हो रहा है वायरल

विश्वास न्यूज को अपने फैक्ट चेकिंग वॉट्सऐप चैटबॉट (+91 95992 99372) पर भी वायरल तस्वीर और इससे जुड़ा दावा फैक्ट चेक के लिए मिला है। वायरल तस्वीर में भगवा रंग का गमछा पहने कुछ युवतियों और युवकों का एक समूह दिख रहा है। यह तस्वीर एक सेल्फी है। कीवर्ड्स से सर्च करने पर हमें यही तस्वीर फेसबुक समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी वायरल मिली। Riddima Rajput Chauhàn नाम की फेसबुक यूजर ने 18 मार्च 2021 को वायरल तस्वीर को पोस्ट करते हुए लिखा है, ‘बदलता भारत उतरांचल यूनिवर्सिटी, उत्तराखंड, में अंग्रेजो के जमाने से चली आ रही परम्परा को खत्म करते हुए दीक्षांत समारोह में इस वर्ष काले कोट और काले टोप की जगह सभी स्टूडेंट को भगवा पहनाकर डिग्रिया दी धीरे धीरे नए भारत का उदय हो रहा है। #जयश्रीराम’

यहां इस पोस्ट की बातों को ज्यों का त्यों पेश किया गया है। इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्वास न्यूज ने सबसे पहले वायरल तस्वीर को गौर से देखा। तस्वीर में दिख रहे युवक और युवतियों में से किसी के चेहरे पर मास्क नहीं दिख रहा है। कोविड-19 के संक्रमण के दौरान अभी कई राज्यों में शैक्षणिक गतिविधियों पर ब्रेक है। जहां शैक्षणिक गतिविधियां चल भी रही हैं, उनमें कोविड प्रोटोकॉल को फॉलो किया जा रहा है। सोशल मीडिया यूजर्स वायरल तस्वीर को इस साल (2021) के दीक्षांत समारोह की तस्वीरें बता रहे हैं। ऐसे में किसी का मास्क न लगाए होने से ये सवाल खड़ा होता है कि कहीं तस्वीर पुरानी तो नहीं।

विश्वास न्यूज ने इस मामले की आगे पड़ताल के लिए जरूरी कीवर्ड्स से इसे इंटरनेट पर खोजा। uttaranchal university convocation कीवर्ड्स से सर्च करने पर हमें यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर 29 फरवरी 2020 को प्रकाशित एक ब्लॉग मिला। इस ब्लॉग में उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के पहले दीक्षांत समारोह के आयोजन की रिपोर्ट दी गई है। यह आयोजन पिछले साल 29 फरवरी को उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के स्वामी विवेकानंद ऑडिटोरियम में किया गया था। इस ब्लॉग पोस्ट में तमाम तस्वीरें दी हुई हैं। इनमें मौजूद लोग भगवा के अलावा दूसरे रंगों के गमछे पहने हुए भी दिख रहे हैं। इस ब्लॉग पोस्ट को यहां क्लिक कर देखा जा सकता है।

इसी रिपोर्ट में नीचे एक दीक्षांत समारोह 2020 के सभी तस्वीरों का एक गूगल ड्राइव लिंक दिया हुआ है। इस लिंक पर पिछले साल के दीक्षांत समारोह की सारी तस्वीरें दी हुई हैं। हमने एक-एक करके सारी तस्वीरों को गौर से देखा। इसमें हमको ऐसे भी कई तस्वीरें मिलीं, जिनमें युवक और युवतियां भगवा के अलावा दूसरे रंगों (जैसे नीले रंग) के गमछे पहने भी नजर आए। ऐसी ही एक तस्वीर को यहां नीचे देखा जा सकता है।

इसी ड्राइव लिंक पर हमें वायरल तस्वीर में सेल्फी लेती हुई युवती की भी डिग्री लेते हुए तस्वीर मिल गई। दोनों तस्वीरों को आपस में साथ रखने पर यहां नीचे स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है कि सेल्फी लेती युवती और डिग्री लेती युवती, दोनों एक ही हैं।

वायरल फोटो में मौजूद (ऊपर) और डिग्री लेते हुए युवती की तस्वीर।

विश्वास न्यूज की अबतक की पड़ताल से ये बात साफ हो चुकी थी कि वायरल तस्वीर पिछले साल के दीक्षांत समारोह की है। हमें ऐसी कोई प्रामाणिक मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली, जो इस बात की पुष्टि करती हो कि उत्तरांचल यूनिवर्सिटी में इस साल यानी 2021 में कोई दीक्षांत समारोह हुआ है। विश्वास न्यूज ने इस मामले की आगे पुष्टि के लिए उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार ऑफिस से संपर्क किया। उन्होंने भी हमें बताया कि वायरल तस्वीरों का मामला उनकी संज्ञान में आया है। रजिस्ट्रार ऑफिस से मिली जानकारी के मुताबिक, इस साल अबतक दीक्षांत समारोह नहीं हुआ है। पिछले साल हुआ दीक्षांत समारोह ही यूनिवर्सिटी का पहला दीक्षांत समारोह था। रजिस्ट्रार ऑफिस से हमें बताया गया कि यूनिवर्सिटी की वेबसाइट पर पिछले साल के समारोह की सारी तस्वीरें देखी जा सकती हैं और किसी एक कलर कोड के गमछे के होने की बात सही नहीं है।

विश्वास न्यूज ने इस वायरल दावे को शेयर करने वाली Riddima Rajput Chauhàn नाम की फेसबुक प्रोफाइल को स्कैन किया। प्रोफाइल पर दी गई जानकारी के मुताबिक, यूजर जयपुर, राजस्थान की हैं। फैक्ट चेक किए जाने तक इस प्रोफाइल के 3783 फॉलोअर्स थे।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज की पड़ताल में उत्तरांचल यूनिवर्सिटी को लेकर किया जा रहा ये दावा भ्रामक साबित हुआ है। इस साल अबतक उत्तरांचल यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह का आयोजन नहीं हुआ है। सोशल मीडिया यूजर्स पिछले साल यानी 2020 के आयोजन की तस्वीरें शेयर कर रहे हैं। उस साल भी स्टूडेंट्स के लिए सिर्फ भगवा रंग का ड्रेस कोड नहीं था, बल्कि छात्रों-छात्राओं ने अलग-अलग रंग के स्कार्फ भी पहने थे।

  • Claim Review : उत्तरांचल यूनिर्सिटी ने इस साल दीक्षांत समारोह में काले कोट और काले टोप की जगह सभी स्टू़डेंट्स को भगवा पहनाकर डिग्रियां दीं।
  • Claimed By : Riddima Rajput Chauhàn
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later