X

Fact Check: नागपुर में हुई सट्‌टा संचालक की हत्या का वीडियो गलत दावे के साथ वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 18, 2021

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज): सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है, जिसमें सीसीटीवी में कैद हुई एक हत्या का फुटेज है। इस वीडियो क्लिप को सितंबर 2020 से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, खासकर फेसबुक पर व्यापक रूप से वायरल किया जा रहा है। वीडियो को इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है, “आरएसएस कार्यकर्ताओं ने एक दलित आईएएस अधिकारी की हत्या कर दी और उनकी 16 वर्षीय बेटी के साथ कार में सामूहिक बलात्कार किया।’

Vishvas News ने अपनी पड़ताल में इस दावे को फर्जी पाया। वायरल वीडियो एक सट्‌टा और जुआ अड्डा संचालक किशोर बिनेकर की हत्या का है। इसका आरएसएस से कोई संबंध नहीं है।

क्या है वायरल पोस्ट में ?

Vishvas News को 29 सितंबर, 2020 को Sunyd Hassan द्वारा साझा किया गया एक वीडियो मिला। वीडियो के साथ दावा किया गया (अनुवादित) नागपुर में RSS के कार्यकर्ता खुलेआम केरल में एक दलित IAS अधिकारी की हत्या कर देते हैं और उनकी 16 वर्षीय बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार कर देते हैं।”

पोस्ट के आर्काइव वर्जन को यहाँ देखें।

पड़ताल:

विश्वास न्यूज़ ने सरल कीवर्ड खोज के साथ अपनी जांच शुरू की, क्योंकि वायरल पोस्ट ने दावा किया था कि यह नागपुर की घटना है। हमने ढूंढा कि क्या नागपुर में कोई भी हत्या सीसीटीवी पर रिकॉर्ड हुई है।

Vishvas News को नागपुर टुडे की एक खबर मिली। खबर के अनुसार, “लाइव वीडियो: सट्‌टा संचालक किशोर बिनेकर को नागपुर में दिन के उजाले में मार दिया गया।” वेबसाइट ने वायरल वीडियो का भी इस्तेमाल किया था।

हमें ‘द लाइव नागपुर‘ पर भी 26 सितंबर, 2020 को प्रकाशित एक खबर मिली, जिसमें कहा गया था- “जुआ अड्डा संचालक बाल्या उर्फ किशोर बिनेकर की हत्या।” रिपोर्ट में कहा गया, “नागपुर में आज भोले पेट्रोल पंप पर तनाव पैदा हो गया, जब 5 लोगों ने दिन के उजाले में एक व्यक्ति की हत्या कर दी और अपनी मोटरबाइक से मौके से भाग गए।” इस वेबसाइट ने भी वायरल वीडियो का इस्तेमाल किया।

हमें नागपुर टुडे की वेबसाइट पर इस खबर का एक अपडेट भी मिला। अपडेट के अनुसार, “27 सितंबर, 2020 को सट्‌टा और जुआ अड्डा संचालक बाल्या उर्फ किशोर बिनेकर की हत्या में चार लोग गिरफ्तार हुए।”

कीवर्ड सर्च करने पर हमें ANI के वेरिफाइड ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट भी मिला, जिसमें इस घटना का जिक्र था।

अपनी जांच के अंतिम चरण में विश्वास न्यूज ने एएनआई के नागपुर ब्यूरो प्रमुख, सौरभ जोशी से संपर्क किया। उन्होंने कहा, “नागपुर में सीसीटीवी में रिकार्डेड हत्या का यह वीडियो सितंबर 2020 का है, जब सत्ता किंग बाल्या उर्फ़ किशोर बिनेकर की दिन के उजाले में हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में गिरफ्तार मुख्य आरोपी उस आदमी का बेटा है, जिसकी 2001 में बिनेकर ने हत्या कर दी थी। बिनेकर जुआ अड्डा चलाता था और उस पर कई अपराधों में मुक़दमे चल रहे थे। इस मामले में किसी लड़की का बलात्कार या आईएएस अधिकारी की हत्या नहीं हुई थी।”

विश्वास न्यूज ने अंत में फेसबुक उपयोगकर्ता की जांच की, जिन्होंने झूठे दावों के साथ वीडियो को शेयर किया। Sunyd Hassan कन्नूर का निवासी है। उनके द्वारा शेयर किए गए वीडियो को एक हजार से अधिक बार देखा जा चुका है।

निष्कर्ष: RSS कार्यकर्ताओं ने नागपुर में एक दलित IAS अधिकारी को चाकू नहीं मारा। वायरल वीडियो एक जुआरी मांद राजा बाल्या बिनकर की हत्या का है।

  • Claim Review : നാഗപ്പൂരിൽ RSS പ്രവർത്തകർ ദളിത് IAS ഓഫീസറെ പരസ്യമായി വെട്ടിയും കുത്തിയും കൊലപ്പെടുത്തുന്നു . അദ്ദേഹത…
  • Claimed By : Sunyd Hassan
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later