X

Fact Check: गणपति जुलूस के दौरान लोगों को करंट लगने का वायरल वीडियो पुराना है, हाल का नहीं।

गुजरात के अंकलेश्वर में गणेश जुलूस के दौरान लोगों को करंट लगने का वायरल वीडियो पुराना है, हाल का नहीं। वीडियो को भ्रामक दावों के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • By Vishvas News
  • Updated: September 14, 2022

Vishvas News (नई दिल्ली): सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में दावा किया जा रहा है कि गणपति जुलूस के दौरान करंट लगने से 3 लोगों की मौत हो गई और सात लोग घायल हो गए। वीडियो गुजरात के अंकलेश्वर का होने का दावा किया जा रहा है और इसे हाल का बता कर साझा किया जा रहा है। हालांकि विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि घटना साल 2019 की है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

ट्विटर यूजर, अधिवक्ता प्रमोद कुमार ने वायरल वीडियो को शेयर किया और हिंदी में लिखा: “23 फिट ऊँची गणेश मूर्ति लाते वक्त बिजली के तार से छू कर 3 लड़के मर गए और 7 गंभीर हालत में ,गुजरात के अकलेस्वर की घटना ….संकटमोचन , विघ्नहर्ता, के सामने घटना हो गई पर भगवान आये नही बचाने …????”

यहां पोस्ट और आर्काइव वर्जन देखें।

पड़ताल:

विश्वास न्यूज ने इनविड टूल की मदद से वीडियो के कई कीफ्रेम निकाले और इन कीफ्रेम को गूगल रिवर्स इमेज सर्च किया।

हमें 27 अगस्त, 2019 को इंडिया टीवी की वेबसाइट पर प्रकाशित एक खबर मिली जिसका शीर्षक था: “गुजरात में गणेश प्रतिमा लाते समय बड़ा हादसा, करंट लगने से 2 की मौत, 5 अस्पताल में भर्ती” खबर में बताया गया कि यह घटना वर्ष 2019 में गुजरात के भरूच जिले के अंकलेश्वर की है।

बाद में विश्वास न्यूज ने कीवर्ड सर्च किया तो हमें टीवी9 गुजराती के यूट्यूब चैनल पर यह वीडियो 2019 में अपलोड मिला।

यह स्पष्ट था कि वीडियो हाल का नहीं बल्कि 2019 का है।

जांच के अगले चरण में विश्वास न्यूज ने दैनिक जागरण के गुजरात रिपोर्टर शत्रुघ्न शर्मा से संपर्क किया। उन्होंने कहा, “यह हादसा 3 साल पहले गुजरात के अंकलेश्वर में गणेश मूर्ति को आदर्श बाजार में लाते समय हुआ था। इस हादसे में तीन युवकों की मौत हो गई थी, जबकि अन्य बुरी तरह घायल हो गए थे। बारिश का मौसम था और 23 फीट ऊंची गणेश प्रतिमा थी। ऊपर लटक रहे बिजली के तारों को छुआ, जिससे मूर्ति ला रहे 10 युवक करंट लगने से बुरी तरह घायल हो गए। आस्था और श्रद्धा का मजाक उड़ाने के मकसद से 3 साल बाद एक बार फिर इस घटना को ताजा बताते हुए कुछ शरारती तत्व शेयर कर रहे हैं। यह पोस्ट भ्रामक है और लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा रहा है।”

जांच के अंतिम चरण में, हमने पोस्ट को साझा करने वाले यूजर की फेसबुक सोशल स्कैनिंग की। सलाह प्रमोद कुमार मई 2020 को प्लेटफॉर्म से जुड़े। उनके 4867 फॉलोअर्स हैं।

निष्कर्ष: गुजरात के अंकलेश्वर में गणेश जुलूस के दौरान लोगों को करंट लगने का वायरल वीडियो पुराना है, हाल का नहीं। वीडियो को भ्रामक दावों के साथ शेयर किया जा रहा है।

  • Claim Review : 23 फिट ऊँची गणेश मूर्ति लाते वक्त बिजली के तार से छू कर 3 लड़के मर गए और 7 गंभीर हालत में ,गुजरात के अकलेस्वर की घटना
  • Claimed By : Twitter User Adv. Pramod Kumar
  • Fact Check : भ्रामक
भ्रामक
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later