पूरा सच : नकली नोटों की छपाई वाला वीडियो भ्रामक है

0

नई दिल्‍ली(विश्‍वास टीम)। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें नोटों की छपाई होते देखी जा सकती है। वीडियो के साथ कैप्शन दिया गया है : “Small scale industry in Pakistan. इस वीडियो को सबको भेजो एक ने भी छोड़ दी तो वीडियो बनाने वाले का मिशन सार्थक न हुआ समझो ।👇🏻”।

विश्‍वास टीम की पड़ताल में पता चला कि असल में यह वीडियो नकली नोट छापने वाली फैक्ट्री का नहीं, बल्कि बच्चों के खेलने वाले नोटों की छपाई का है।

पड़ताल

हमने सबसे पहले इस वीडियो को यूट्यूब पर ढूंढ़ा और पाया कि इस वीडियो को इस कैप्शन के साथ जून 12, 2018 को अपलोड किया गया था। इस वीडियो को जब हमने  watchframebyframe.com टूल पर डाल कर 1 /4 स्पीड में चलाया तो हमें साफ़-साफ़ दिखा कि नोटों पर लिखा है ‘भारतीय चिल्ड्रन्स बैंक” और रुपये की जगह “कूपन” लिखा है।

यह स्पष्ट नहीं है कि यह वीडियो कहां से आया है। हालांकि बैकग्राउंड में मराठी बोलने वाले एक व्यक्ति की आवाज़ सुनी जा सकती है।

पर जब हमने इस वीडियो का ओरिजिन जानने की कोशिश की तो हमने पाया कि इस वीडियो को इस कैप्शन के साथ सबसे पहले Ravi Bagri FCA (@ravibagri) नाम के व्यक्ति ने 12 जून 2018 को शेयर किया था।

जब हमने रवि बघरी के ट्विटर प्रोफाइल को foller.me पर सर्च किया तो हमने पाया कि इनके ज़्यादातर ट्वीट्स एक विशेष विचारधारा को दर्शाते हैं।

हालाँकि रवि बघरी के इस ट्वीट को ज़्यादा बार रीट्वीट नहीं किया गया, पर जब इस पोस्ट को हाल में Surat Diamond नामक page द्वारा फेसबुक पर शेयर किया गया तो इस पोस्ट को 3000 से ज़्यादा बार शेयर किया गया ।

निष्कर्ष: सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो को, जिसमें बच्चो के खेलने वाले नकली नोटों की छपाई को पाकिस्तान में भारत के नकली नोट छापने की प्रेस का बताया जा रहा है, भ्रामक है। अगर आप इस वीडियो को ध्यान से देखें तो आपको नोटों के ऊपर ‘भारतीय चिल्ड्रन बैंक’ लिखा साफ़ नज़र आ जाएगा और रुपये की जगह कूपन लिखा नज़र आएगा। साफ़ पता चलता है की यह सभी नोट बच्चो को खेलने के मकसद से छापे गए मनोरंजन बैंक ऑफ़ इंडिया के नोट हैं, इसलिए इन्हे देख भ्रमित होने की कोई ज़रूरत नहीं है।

पूरा सच जानें… सब को बताएं

सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी खबर पर संदेह है जिसका असर आप, समाज और देश पर हो सकता है तो हमें बताएं। हमें यहां जानकारी भेज सकते हैं। हमें contact@vishvasnews.com पर ईमेल कर सकते हैं। इसके साथ ही वॅाट्सऐप (नंबर – 9205270923) के माध्‍यम से भी सूचना दे सकते हैं।

Written BY Pallavi Mishra
  • Claim Review : पाकिस्‍तान में भारतीय नोटों की छपाई
  • Claimed By : CM Pandey Twitter user
  • Fact Check : False

संबंधित लेख