X

Fact Check: दक्षिण अफ्रीका में लूटी गई दुकान के पुराने वीडियो को कोरोनावायरस लॉकडाउन के चलते हाल का बता कर किया जा रहा है वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: April 13, 2020

नई दिल्ली (विश्वास टीम)। सोशल मीडिया पर आज कल एक दुकान के अंदर लूटपाट करने वाली भीड़ का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन में दावा किया जा रहा है कि यह दक्षिण अफ्रीका में कोरोनोवायरस से निपटने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान हुई एक घटना है। विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह वीडियो दक्षिण अफ्रीका में लॉकडाउन से संबंधित नहीं है। असल में यह वीडियो 2 साल पुराना है जब भीड़ ने 28 अप्रैल 2018 को दक्षिण अफ्रीका के मिशेल में बीपी गैरेज में स्थित पिक एन पे एक्सप्रेस को लूटा था।

क्या हो रहा है वायरल?

वायरल वीडियो में एक दुकान के अंदर लूटपाट करती भीड़ को देखा जा सकता है। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन में दावा किया जा रहा है, “Lockdown in South Africa has collapsed…People are out on the streets because due to hunger…” जिसका हिंदी अनुवाद होता है “दक्षिण अफ्रीका में लॉकडाउन ध्वस्त हो गया है …भूख के कारण लोग सड़कों पर निकल रहे हैं …”

इस पोस्ट का फेसबुक लिंक यहां और आर्काइव लिंक यहां है।

पड़ताल

इस वीडियो की पड़ताल के लिए हमने इस वीडियो के की-फ्रेम्स निकाले और फिर उन्हें ‘Loot in South Africa Store’ कीवर्ड के साथ गूगल रिवर्स इमेज पर सर्च किया। Google पर हमें 29 मई, 2018 को YouTube चैनल क्राइम इंटेलिजेंस एंड कम्युनिटी अवेयरनेस – साउथ अफ्रीका द्वारा पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला। वीडियो के वर्णन के अनुसार, यह भीड़ दक्षिण अफ्रीका के मिशेल प्लेन शहर में BP गैरेज में स्थित पिक एन पे एक्सप्रेस नाम के स्टोर को लूट रही थी।

इसके अलावा, हमें दक्षिण अफ्रीकी न्यूज़ वेबसाइट न्यूज 24 द्वारा 29 मई, 2018 को प्रकाशित एक संबंधित रिपोर्ट भी मिली।

दक्षिण अफ्रीका में पिक एन पे एक्सप्रेस दूसरा सबसे बड़ा सुपरमार्केट चेन स्टोर है। इस विषय में ज़्यादा पुष्टि के लिए हमने पिक एन पे एक्सप्रेस के जनरल मैनेजर ऑगस्टीन माइकल से फ़ोन पर बात की। उन्होने हमें बताया, “यह वीडियो 2018 का है। इस मामले की शिकायत भी कर दी गई थी और पुलिस एक्शन भी हुआ था। हाल में पिक एन पे के किसी भी स्टोर पर ऐसी कोई घटना नहीं हुई है।”

अंत में हमने फर्जी पोस्ट करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि Unique Videos नाम के इस पेज को फेसबुक पर 204 लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह वीडियो दक्षिण अफ्रीका में लॉकडाउन से संबंधित नहीं है। असल में यह वीडियो 2 साल पुराना है जब भीड़ ने 28 अप्रैल 2018 को दक्षिण अफ्रीका के मिशेल में बीपी गैरेज में स्थित पिक एन पे एक्सप्रेस को लूटा था।

  • Claim Review : Lockdown in South Africa has collapsed... People are out on the streets because due to hunger.
  • Claimed By : Unique Videos
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

कोरोना वायरस से कैसे बचें ? PDF डाउनलोड करें और जानिए कोरोना वायरस से जुड़ी महत्वपूर्ण सूचना

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later