X

Fact Check : शरद पवार और अनिल देशमुख की मॉर्फ्ड तस्‍वीर वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: March 27, 2021

विश्‍वास न्‍यूज (नई दिल्‍ली)। एनसीपी मुखिया शरद पवार और महाराष्‍‍‍‍ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख की एक मॉर्फ्ड तस्‍वीर सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। इसमें कथित तौर पर दोनों नेताओं को दो हजार के नोटों की गड्डियों के साथ बैठा हुआ दिखाया गया है। इतना ही नहीं, बगल में सोनिया गांधी की तस्‍वीर भी दिखाई गई है।

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल पोस्‍ट की जांच की। पड़ताल में यह फर्जी निकली। ओरिजनल तस्‍वीर इंदौर में कई साल पहले हुए एक छापेमारी की है। ओरिजनल तस्‍वीर को मॉर्फ्ड करके इसके ऊपर शरद पवार और अनिल देशमुख का चेहरा चिपकाया गया है। इतना ही नहीं, मॉर्फ्ड तस्‍वीर में कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी की एक तस्‍वीर को भी जोड़ा गया है।

क्‍या हो रहा है वायरल

ट्विटर हैंडल राजेश “हिंदुस्थानी” ने 25 मार्च को मॉर्फ्ड तस्‍वीर को अपलोड करते हुए दावा किया : ‘Vasuli hafta gangs मुम्बई वसूली गैंग का असली सरगना… टेड़ा मुँह है… ये दोनों एक दिन पूरा महाराष्ट्र लूट कर खा जाएंगे।’

पोस्‍ट का आर्काइव्‍ड वर्जन यहां देखें। यह तस्‍वीर सोशल मीडिया में जगह-जगह वायरल हो रही है।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने वायरल तस्‍वीर की सच्‍चाई जानने के लिए सबसे पहले गूगल रिवर्स इमेज टूल की मदद ली। इस ऑनलाइन टूल की मदद से जब हमने ओरिजनल तस्‍वीर खोजना शुरू किया, तो यह हमें कई जगह मिली।

इसके बाद हमने टाइम लाइन टूल की मदद ली। इससे हमें सबसे पुरानी तस्‍वीर हिन्दुस्‍तान टाइम्‍स की वेबसाइट पर मिली। 18 दिसंबर 2016 को पब्लिश एक खबर में बताया गया कि इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक घर में छापेमारी करे 11.43 लाख रुपए जब्‍त किए। इसमें से 11.4 लाख की रकम दो हजार के नए नोट में थी। पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में भी लिया। पूरी खबर यहां पढ़ें।

इसके बाद विश्‍वास न्‍यूज ने एनसीपी के प्रमुख प्रवक्‍ता महेश तपासे से संपर्क किया और उनके साथ वायरल तस्वीर को शेयर किया। उन्‍होंने बताया कि फर्जी तस्‍वीर को आईटी सेल वाले वायरल कर रहे हैं। इनका लक्ष्‍य यही है कि किसी भी तरह महाराष्‍ट्र सरकार को परेशान किया जाए।

अब बारी थी उस यूजर के बारे में पता लगाने की, जिसने फर्जी तस्‍वीर को वायरल किया। हमें पता चला कि ट्विटर हैंडल राजेश “हिंदुस्थानी” के अकाउंट को जुलाई 2020 को बनाया गया। इसे 1100 से ज्‍यादा लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में शरद पवार और अनिल देशमुख की वायरल तस्‍वीर मॉर्फ्ड तस्‍वीर साबित हुई।

  • Claim Review : शरद पवार और अनिल देशमुख की तस्‍वीर
  • Claimed By : ट्विटर हैंडल राजेश
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later