X

Fact Check: वीडियो में दिख रही महिला कोई कृत्रिम मानव नहीं है, एक वीडियो गेम की एनिमेटेड करैक्टर है

विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा गलत है। वीडियो में दिख रही महिला कोई रोबोट नहीं, बल्कि एक वीडियो गेम की कैरेक्टर है।

  • By Vishvas News
  • Updated: February 22, 2022

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। सोशल मीडिया के कई प्लेटफॉर्म्स पर आजकल एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में एक महिला को बात करते हुए देखा जा सकता है। पोस्ट के साथ दावा किया जा रहा है कि ये एक प्लास्टिक की बनी कृत्रिम महिला है, जिसे चीन ने बनाया है। विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा गलत है। वीडियो में दिख रही महिला कोई रोबोट नहीं, बल्कि एक वीडियो गेम की कैरेक्टर है।

क्या है वायरल पोस्ट में?

वायरल वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है “China has produced first woman plastic, one thing is that, she doesn’t have a soul, the end of the world is near.”

इस पोस्ट का आर्काइव लिंक यहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

इस वीडियो की पड़ताल करने के लिए हमने इस वीडियो को इनविड टूल में डाला और इसके की फ्रेम्स निकाले। फिर इन कीफ्रेम्स को गूगल रिवर्स इमेज पर ढूंढा। हमें यही वीडियो 23 मई 2018 को PlayStation के वेरिफाइड यूट्यूब चैनल पर मिला। वीडियो के साथ डिस्क्रिप्शन लिखा था, “Detroit: Become Human – Shorts: Chloe | PS4।”

कीवर्ड्स के साथ ढूंढ़ने पर हमें पता चला कि डेट्रॉइट: बीइंग ह्यूमन एक वीडियो गेम है, जिसे क्वांटिक ड्रीम द्वारा विकसित किया गया है और सोनी इंटरएक्टिव एंटरटेनमेंट द्वारा 2018 में प्रकाशित किया गया है। क्लोई इस गेम में एक कैरेक्टर है।

सर्च करने पर पता चला कि क्लोई डेट्रायट में एक ST200 एंड्रॉइड है: बीइंग ह्यूमन, गेम के मुख्य मेनू पर एक परिचारिका के रूप में दिखाई दे रही है। वह शुरुआत में खिलाड़ी को उनकी सेटिंग्स और अनुभव को अनुकूलित करने में मदद करती है। वह बाद में मुख्य मेनू पर रहती है, कभी-कभी सवाल पूछती है या खेल में विकल्पों और घटनाओं पर टिप्पणी करती है।

हमने इस विषय में साइबर एक्सपर्ट और गेमिंग एन्थुज़ियास्ट आयुष भरद्वाज से संपर्क साधा। उन्होंने भी कन्फर्म किया कि “क्लोई बीइंग ह्यूमन, गेम के मुख्य मेनू पर एक परिचारिका है। वो एक एनिमेटेड कैरेक्टर है।”

इस पोस्ट को Matthew Appiah Kwarteng नाम के यूजर ने शेयर किया था। यूजर के फेसबुक पर 2.8K दोस्त हैं और वे जर्मनी के रहने वाले हैं।

निष्कर्ष: विश्वास न्यूज़ ने अपनी पड़ताल में पाया कि ये दावा गलत है। वीडियो में दिख रही महिला कोई रोबोट नहीं, बल्कि एक वीडियो गेम की कैरेक्टर है।

  • Claim Review : hina has produced first woman plastic, one thing is that, she doesn't have a soul, the end of the world is near.
  • Claimed By : Matthew Appiah Kwarteng
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपना सुझाव पोस्ट करें
और पढ़े

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later