X

Fact Check : 2017 में उदयपुर में निकाली गई थी रैली, वीडियो अब दिल्‍ली चुनाव के नाम पर वायरल

  • By Vishvas News
  • Updated: February 14, 2020

नई दिल्‍ली (विश्‍वास न्‍यूज)। दिल्‍ली चुनाव को लेकर सोशल मीडिया में इस बार कई तरह के झूठ देखने को मिले। इसी कड़ी में एक वीडियो को वायरल करते हुए कुछ यूजर्स दावा कर रहे हैं कि दिल्‍ली चुनाव में कुछ मुसलमानों ने विवादित नारे लगाए।

विश्‍वास न्‍यूज ने जब वायरल वीडियो की पड़ताल की तो हमें पता चला कि यह राजस्‍थान के उदयपुर का है। दिसंबर 2017 को उदयपुर के चेतक सर्किल पर मुस्लिम समाज के कुछ लोगों ने शंभू रैगर को कड़ी सजा देने के लिए रैली निकाली थी।

क्‍या है वायरल पोस्‍ट में

फेसबुक यूजर जयंत श्रीवास्‍तव ने 9 फरवरी को अपने अकाउंट पर एक पुराने वीडियो को अपलोड करते हुए लिखा : ”In the #DelhiPolls2020, Muslim goons chant a provocative slogan against Hindus to boast Islamic supremacy.”

इस पोस्ट के आर्काइव्ड वर्जन को यहाँ देखा जा सकता है।

पड़ताल

विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले वायरल वीडियो को ध्‍यान से देखा। इसमें हमें कुछ लोगों को नारे लगाते हुए देखा जा सकता है। वीडियो में हमें सड़क पर एक सफेद रंग के घोड़े की मूर्ति दिखाई दी।

इसके बाद हमने InVID में इस वीडियो को अपलोड करके कई वीडियो ग्रैब निकाले और Yandex की मदद से सर्च किया। कुछ देर की पड़ताल के बाद हमें एक वीडियो Bhilwara stAr नाम के यूटयूब चैनल पर मिला। इसे 13 दिसंबर 2017 को अपलोड किया गया था। इसमें बताया गया कि उदयपुर में मुस्लिमों ने शंभू रैगर का विरोध करते हुए रैली निकाली।

इसके बाद हमने फिर से सर्च जारी रखा। हमें सबसे पुराना वीडियो Mewar Aajtak News के यूट्यूब चैनल पर मिला। 13 दिसंबर 2017 को अपलोड इस वीडियो में बताया गया कि उदयपुर के चेतक सर्किल पर मुस्लिम समाज के लोगों ने शंभू रैगर के खिलाफ रैली निकाली।

पड़ताल के दौरान हमने गूगल में चेतक सर्किल, उदयपुर लिखकर सर्च किया। हमें पता चला कि उदयपुर में चेतक सर्किल है। अब हमें वहां की ओरिजनल तस्‍वीरें चाहिए थीं। इसके लिए हमने गूगल इमेज में जाकर चेतक सर्किल सर्च किया। हमारे सामने कई तस्‍वीरें थीं। जब हमने इन तस्‍वीरों को वायरल हो रहे वीडियो के ग्रैब से मिलाया तो हमें कई समानता दिखीं।

दिल्‍ली के नाम पर वायरल हो रहे वीडियो में सर्किल पर एक सफेद रंग के घोड़े की मूर्ति दिखीं। यही हमें उदयपुर के चेतक सर्किल की ओरिजनल तस्‍वीर में भी दिखा। इसी तरह दोनों तस्‍वीरों में घोड़े के अलावा पोल और पीछे की बिल्डिंग भी एक ही थी। मतलब साफ था कि वीडियो दिल्‍ली का नहीं, उदयपुर के चेतक सर्किल का है।

इसके बाद हमने मेवाड़ आजतक न्‍यूज के मालिक हेमंत सिंह चंदाना से संपर्क किया। उन्‍होंने विश्‍वास न्‍यूज से बातचीत में बताया, ”दिल्‍ली के नाम पर अब वायरल हो रहा वीडियो उदयपुर के चेतक सर्किल का है। 2017 के दिसंबर में शंभू रैगर के खिलाफ मुस्लिम समाज के लोगों ने एक रैली निकालकर विवादित नारे लगाए थे। वीडियो उसी दौरान का है।”

अंत में हमने फर्जी पोस्‍ट करने वाले जयंत श्रीवास्‍तव के अकाउंट की जांच की। हमें पता चला कि यूजर फरीदाबाद का रहने वाला है। इसने यह अकाउंट मार्च 2011 को बनाया था।

निष्कर्ष: निष्‍कर्ष : विश्‍वास न्‍यूज की पड़ताल में पता चला कि दिल्‍ली चुनाव में मुसलमानों की रैली वाली पोस्‍ट फर्जी है। यह रैली 2017 में उदयपुर में शंभू रैगर के खिलाफ निकाली गई थी।

  • Claim Review : दिल्‍ली चुनाव में कुछ मुसलमानों ने विवादित नारे लगाए।
  • Claimed By : फेसबुक यूजर जयंत श्रीवास्‍तव
  • Fact Check : झूठ
झूठ
    फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

  • वॅाट्सऐप नंबर 9205270923
  • टेलीग्राम नंबर 9205270923
  • ईमेल contact@vishvasnews.com
जानिए वायरल खबरों का सच क्विज खेलिए और सीखिए स्‍टोरी फैक्‍ट चेक करने के तरीके

टैग्स

संबंधित लेख

Post saved! You can read it later