X

Fact Check: वायरल वीडियो अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर का नहीं, गुजरात के चुली जैन मंदिर का है

अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो वहां का नहीं है। वायरल वीडियो गुजरात के चुली जैन मंदिर का है।

  • By Vishvas News
  • Updated: October 21, 2022
Gujarat Chuli Jain Mandir, Sri Ram Janmbhoomi Mandir, Ayodhya Ram Mandir, ayodhya ram mandir construction, fact check, fake news,

नई दिल्ली (विश्वास न्यूज)। सोशल मीडिया पर अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर के नाम से एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें एक मंदिर को दिखाया गया है। वीडियो को शेयर कर यूजर्स दावा कर रहे हैं कि वायरल वीडियो अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर का है।

विश्वास न्यूज ने अपनी पड़ताल में पाया कि वायरल वीडियो गुजरात के चुली जैन मंदिर का है, अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर का नहीं। इसे गलत दावे के साथ वायरल किया जा रहा है।

क्या है वायरल पोस्ट में

फेसबुक यूजर Rajesh D Sanghvi (आर्काइव लिंक) ने 10 अक्टूबर को 57 सेकंड के इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा,

निर्माणधीन श्री राम मंदिर अयोध्या के लिए पत्थरों की ऐसी नक्कशी जैसे सुनार ने कोई गहना बनाया हों l ताजमहल से भी सुंदर, खूबसूरत हैं, अपना राष्ट्र मंदिर l जय श्री राम l भारत माता की जय ! वन्दे मातरम!

एक अन्य फेसबुक यूजर Mithlesh Kumar (आर्काइव लिंक) ने भी इससे मिलते-जुलते वीडियो को पोस्ट करते हुए समान दावा किया।

पड़ताल

वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने इसमें से एक कीफ्रेम निकालकर उसे गूगल रिवर्स इमेज से सर्च किया। इसमें हमें फेसबुक पूज ‘सनातन संस्कृति‘ पर इससे मिलती-जुलती तस्वीरें मिलीं। इन्हें 23 फरवरी 2021 को अपलोड किया गया है। इसमें लिखा है कि ये तस्वीरें गुजरात के हलवाड-धनगाधरा हाईवे पर स्थित चुली जैन मंदिर की हैं। ये मंदिर के बाहर से ली गई तस्वीरें हैं। अंदर से फोटो लेना मना है।

Gujarat Chuli Jain Mandir

इसके बाद हमने कीवर्ड से इसे गूगल पर ओपन सर्च किया। इसमें हमें Jinagam – जिनागम धर्मसार यूट्यूब चैनल पर भी इस जैन मंदिर की वीडियो मिली। इसमें और वायरल वीडियो में दिख रहा मंदिर एक-सा है। इस वीडियो को 21 जून 2021 को अपलोड किया गया है।

अब हम बात करते हैं निर्माणाधीन राम मंदिर की। 15 अक्टूबर 2022 को दैनिक जागरण में छपी खबर के मुताबिक, राम मंदिर के निर्माण का काम तेजी से चल रहा है। उम्मीद है कि दिसंबर 2023 तक निर्माण पूरा हो जाएगा। मुख्य मंदिर के पत्थरों की करीब 15 फीट ऊंची लेयर तैयार हो गई है। गर्भ गृह के संगमरमर के पिलर खड़े हो गए हैं।

Shri Ram Janmbhoomi Teerth Kshetra के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से 15 अक्टूबर को राम मंदिर के पूरे आकार के कुछ कल्पना करते हुए चित्र ट्वीट किए गए।

इसकी अधिक पुष्टि के लिए हमने अयोध्या दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ राम शरण अवस्थी को वायरल वीडियो भेजा। उन्होंने कहा, ‘यह अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर का वीडियो नहीं है।

यह पोस्ट पहले भी वायरल हुई है। उस समय की गई विश्वास न्यूज की पड़ताल को यहां पढ़ा जा सकता है।

वीडियो को गलत दावे से वायरल करने वाले फेसबुक पेज ‘राजेश डी सांघवी‘ को हमने स्कैन किया। 28 नवंबर 2018 को बने इस पेज को करीब 3 लाख 69 हजार लोग फॉलो करते हैं।

निष्कर्ष: अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो वहां का नहीं है। वायरल वीडियो गुजरात के चुली जैन मंदिर का है।

  • Claim Review : वायरल वीडियो अयोध्या के निर्माणाधीन राम मंदिर का है।
  • Claimed By : FB User- Rajesh D Sanghvi
  • Fact Check : झूठ
झूठ
फेक न्यूज की प्रकृति को बताने वाला सिंबल
  • सच
  • भ्रामक
  • झूठ

पूरा सच जानें... किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमें बताएं

सब को बताएं, सच जानना आपका अधिकार है। अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं...

टैग्स

अपनी प्रतिक्रिया दें

No more pages to load

संबंधित लेख

Next pageNext pageNext page

Post saved! You can read it later